Double Meaning Jokes Sms


अब आप भी बन सकते है अपनी गर्लफ्रेंड के बच्चे के बाप, वो भी बिना मेहनत किये!
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
सन्देश लिखें <बच्चा> स्पेस <गर्लफ्रेंड का पता> और भेजें दें- 98760xxxxx.
मेहनत हमारी, ख़ुशी आपकी!
एक साहब सुबह-सुबह ऑफिस जाने के लिए
बस में चढ़े तो कंडक्टर ने मुस्कुराते हुए
पूछा :–
“कल रात ठीक-ठाक घर पहुँच गए थे
सर ?”
साहब: – “क्यों ? कल रात को मुझे
क्या हुआ था ?”
कंडक्टर – “टुन्न थे आप !”
साहब (गुस्से से) :– “ये तुम कैसे कह सकते
हो ? मैंने तो तुमसे बात तक
नहीं की थी ?”
कंडक्टर: – “ऐसा है सर जी, कल जब आप
बस में बैठे हुए थे तो एक मैडम बस में
चढीं थी और आपने उठकर उन्हें सीट ऑफर
की थी !”
साहब: – “तो ? लेडीज को सीट ऑफर
करना गुनाह है क्या ???”

कंडक्टर :– “गुनाह तो नहीं है सर, पर
उस समय बस में केवल आप दो ही पैसेंजर
थे !!!” tongue.png tongue.png
एक अंग्रेज पाकिस्तान गया। उसने हवाई अड्डे से लाहौर
शहर जाने के लिए टैक्सी ली।
रास्ते में सुनसान जगह पर ड्राईवर ने टैक्सी रोकी और
उसका सब कुछ लूट लिया, कपड़े भी उतरवा लिए ताकि ज्यादा भाग दौड़ ना कर सके, शोर न मचा सके, उसे वीराने में फेंक दिया।

अंग्रेज शर्म के मारे एक पेड़ के पीछे खड़ा हो कर मदद की उम्मीद करने लगा।

तभी एक पठान उधर से गुजरा तो अंग्रेज ने उसे आवाज लगाई।

पठान - ओहो! ये क्या हुआ लाले दी जान?

अंग्रेज ने सारी बात बताई।

पठान अपना नाड़ा खोलते हुए बोला - यारा, तेरा आज दिन ही खराब है।
एक एक्स्ट्रा ओडनरी आदमी था..... (जैसा की हर मोहल्ले में एक होता है )
वो रोज घर से बाहर निकल कर बाहर खेल रहे बच्चों से सवाल पूछा करता था---
.
आदमी -एफिल टावर कहाँ है पता है ??
.
बच्चे ---नहीं अंकल....
.
आदमी - हा हा हा हा जब देखो यहीं पड़े रहते हो....
कभी घर से बाहर निकलो तो पता चले.....
.
दुसरे दिन फिर से...
.
आदमी - अच्छा ये बताओ क़ुतुब मीनार कहाँ है....
.
बच्चे - नहीं पता अंकल...
.
आदमी ---हा हा हा हा जब देखो यहीं पड़े रहते हो....
कभी घर से बाहर निकलो तो पता चले.....
.
रोज रोज के उसके ऐसे सवालों से बच्चे बड़ा जलील महसूस करते थे और तंग आ गए...
बच्चों ने उसे सबक सिखाने की सोची...
.
अगले दिन जब वो आदमी घर से निकला तो इससे पहले वो बच्चों से सवाल पूछता ,
बच्चों ने उससे सवाल पूछा ---- अंकल आपको पता है कि ये ""रामलाल"" कौन है...
.
आदमी--- नहीं मुझे नहीं पता......
.
बच्चे ------ जब देखो बाहर पड़े रहते हो....
कभी घर पर भी रहो तो पता पड़े.. grin.png
आजकल के बच्चे...
बाप: नालायक.! तू फेल हो गया। आज से कभी मुझे पापा मत कहना।
बेटा: ओह कमऑन डैड..! स्कूल टेस्ट ही तो था, कोई DNA टेस्ट थोड़ी न था। tongue.png
Ultimate one
एक मेडीकल कॉलेज मे एक नये प्रोफेसर ने ज्वॉइन
किया...और बहुत ही नामचीन प्रोफेसर होने
की वजह से उसे इस
बात की बिलकुल भी घबराहट नहीं थी कि आज
इस कोलेज मे उसका पहला दिन है..!!
वो सीधा अपनी पहली क्लास मे गया और
सभी छात्र और छात्राओ ने उसका जोरदार
स्वागत किया...!!
प्रोफेसर ने सभी छात्र और छात्राओ को इस
स्वागत के लिये धन्यवाद दिया और अपने परिचय
देने के बाद क्लास से बोला
" मै भी आप सभी का परिचय
जानना चाहता हूँ...पर उससे पहले एक सवाल पूछ कर
आप सभी के ज्ञान की परीक्षा
लेना चाहता हूँ..."
सभी छात्र और छात्राओ ने एक साथ कहा " सर
ठीक है...हम सभी तैयार है..."
प्रोफेसर " हमारे शरीर का कौन सा ऐसा अंग है
जो कि हमारे उत्तेजित होने पर अपने वास्तविक
साईज से दस गुना बडा
हो जाता है..?? "
जब कोई हाथ खडा नही हुआ तो फिर प्रोफेसर ने
एक लडकी को खडा होने के लिये
इशारा किया और बोला " तुम्हे इस
सवाल का जवाब आता है..?? "
लडकी " सर मुझे जवाब तो पता है...पर आपको एक
लडकी से इस तरह का सवाल पूछने मे शर्म मेहसूस
होनी
चाहिये..."
प्रोफेसर " ठीक है फिर बैठ जाओ..."
प्रोफेसर ने फिर एक लडके का हाथ खडा हुआ
देखा और पूछा " क्या तुम्हे जवाव पता है...?? "
लडका " हाँ सर...!! मुझे जवाब पता है.."
प्रोफेसर " तो ठीक है फिर बताओ.."
लडका " सर आँख की पुतली..."
प्रोफेसर " एकदम सही जवाब..."
प्रोफेसर उस लडकी को दोबारा खडा होने के
लिये कहता है जिसने सवाल का जवाब देने से
मना किया था और उससे कहता है..
" मुझे तुमको तीन बाते बतानी है..."
लडकी " कौन से तीन बाते सर...?? "
प्रोफेसर
" पहली बात....तुम्हारा ज्ञान बहुत
ही सतही है...इसको गहराई तक लेकर जाओ
दूसरी बात.....तुम्हारे दिमाग मे
गन्दगी भरी है..इसे निकालो..और...
तीसरी बात....तुम्हारी उम्मीदे बहुत
ज्यादा है.....तो तुम्हे परेशानी मे डाल
सकती है.."
लडकी " उम्मीदे ज्यादा होने का क्या मतलब है
सर...?? "
प्रोफेसर " तुम जिसकी बात कर
रही थी..वो कभी भी अपने वास्तविक साईज से
दस गुना नहीं होता..."
सहारनपुर में एक टेंपो पे लिखा था
.
.
.
.
सावधान, पप्पू कहीं भी खड़ा हो सकता है
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
.
नोट: टेंपो का नाम पप्पू था! tongue.png
FIFA Special

दो सहेलियां आपस में बातें कर रही थी।

पहली: गोल कीपर से कभी शादी न करना।

दूसरी: क्यों?

पहली: न तो वो खुद डालता है और न ही दूसरे को डालने देता है।
एक लड़की छाता ठीक करवाने गयी।
दुकानदार: ऊपर का कपड़ा उतारना पड़ेगा और नीचे डण्डा डालना पड़ेगा।
लड़की: जो मर्ज़ी करो बस पानी अंदर नहीं गिरना चाहिए। grin.png
Happy monsoon
आज का गुप्तज्ञान:-

अच्छी लड़कियाँ ख़ुशी देती है
और

बुरी लड़कियाँ ख़ुशी ख़ुशी देती है ।।। tongue.png tongue.png grin.png