Eid Mubarak Sms


आज खुदा की हम पर हो मेहरबानी;
कर दे माफ़ हम लोगों की सारी नाफरमानी;
ईद का दिन आज आओ मिलकर करें यही वादा;
खुदा की ही राहों में मैं चलूं सदा अपना है ये इरादा।
ईद मुबारक!

मुन्ना भाई: सर्किट, आपुन को कैसे पता चलेगा कि वो सामने बकरा है या बकरी?
सर्किट: सिंपल भाई, पत्थर मार कर देख लो, अगर भागा तो बकरा, अगर भागी तो बकरी।
ईद मुबारक!

ए ईद तुम जब भी आना;
सबके लिए बस खुशियाँ लाना;
हर चेहरे पर हंसी सजाना;
हर आँगन में फूल खिलाना;
जो रोये हैं उन्हें हँसाना;
जो बिछड़े हैं उन्हें मिलाना;
प्यारी ईद तुम जब भी आना;
सबके लिए बस खुशियाँ लाना।
ईद मुबारक!

बकरी ने रोमांटिक होते हुए बकरे से कहा, "आई लव यू"।
बकरा (मायूस होकर): अब क्या फायदा, थोड़े दिनों बाद तो ईद आने वाली है।
ईद मुबारक!

अल्लाह आपको खुदाई की सारी नियामतें दे;
अल्लाह आपके सारे गम आपसे जुदा करे;
दुआ हमारी है सदा आपके ही साथ;
ईद पे आप और भी खुशियां हासिल करें।
ईद मुबारक!

मुबारक मौका अल्लाह ने अताह फ़रमाया;
एक बार फिर बंदगी की राह पे चलाया;
अदा करना अपना फ़र्ज़ तुम खुदा के लिए;
ख़ुशी से भरा हो ईद का मौका आपके लिए।
ईद मुबारक!

जो अल्लाह की बंदगी करता है;
उसे खुदा भी ग़मों से दूर रखता है;
लेता है खुदा भी इम्तिहान कभी-कभी;
मगर भूलना न करना दुआ तुम कभी;
क्योंकि उसकी बंदगी में ही तो हैं ज़िन्दगी की खुशियां सभी।
ईद मुबारक!

आज के दिन क्या घटा छायी है;
चारों ओर खुशियों की फ़िज़ा छायी है;
हर कोई कर रहा है सजदा खुदा को;
तुम भी कर लो बंदगी आज ईद आई है।
ईद मुबारक़!

इतने दिन जो तूने खुदा की इबादत की है;
खुदा ने भी आज तुझपे जमकर रहमतें की हैं;
देने के लिए तुझे खुशियाँ इस जहान की;
ईद की आज ये मुबारक घडी आयी है।
ईद मुबारक!

हो हर दिन तेरा ईद जैसा;
तू हो दुखी ना आये कोई दिन ऐसा;
जो भी हो उम्मीद तेरी हो जाये वो पूरी;
आज ईद के दिन हमारी भी है यही दुआ;
रह ना जाये तेरी कभी कोई आरज़ू अधूरी।
ईद मुबारक!